उत्तराखंड में बनी 11 दवाओं के सैंपल जांच में फेल, एफडीए ने इन दवाओं को बनाने वाली नौ कंपनियों के लाइसेंस किये निलंबित 

ख़बर शेयर करें -

 

खबर सच है संवाददाता

देहरादून। उत्तराखंड में बनी 11 दवाओं के सैंपल जांच में फेल पाए गए हैं। जिस पर राज्य के खाद्य संरक्षा एवं औषधि प्रशासन (एफडीए) विभाग ने इन दवाओं को बनाने वाली नौ कंपनियों के दवा निर्माण लाइसेंस निलंबित कर दिए हैं। साथ ही यह दवाएं बाजार से भी वापस मंगा ली गई हैं।

 

 

दुनिया के कई देशों में भारत की दवाएं फेल पाए जाने के बाद केंद्र सरकार ने दवाओं की निगरानी बढ़ा दी है। इसके तहत केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय हर महीने दवाओं की आकस्मिक जांच करा रहा है। जिसके तहत केंद्रीय दवा मानक नियंत्रण संगठन (सीडीएससीओ) की ओर से देशभर की निर्माण इकाईयों में नियमित सैंपलिंग की जा रही है। पिछले मार्च के महीने में देशभर में 931 सैंपलों की जांच की गई। इसमें 864 सैंपल सही पाए गए। जबकि 66 फेल हुए, वहीं एक सैंपल मिस ब्रांडेड पाया गया। सीडीएससीओ ने मंगलवार को इस बाबत ड्रग अलर्ट जारी किया है। इनमे उत्तराखंड में बनी 11 दवाओं के सैंपल भी मानकों पर खरे नहीं उतरे हैं। जिन निर्माण इकाईयों के सैंपल फेल हुए हैं उनमें दो देहरादून और अन्य हरिद्वार जिले की हैं। एफडीए के अपर आयुक्त एवं औषधि नियंत्रक ताजबर जग्गी ने बताया कि इस संबंध में रिपोर्ट मिलने के बाद दवा बनाने वाली नौ कंपनियों के लाइसेंस निलंबित कर दिए गए हैं। अब ये कंपनियां इन दवाओं का निर्माण नहीं कर सकती हैं। सैंपल फेल होने पर बाजार से वापस मंगाई दवाई। ड्रग कंट्रोलर ने बताया की जिन दवाओं के सैंपल फेल पाए गए हैं उन्हें बाजार से वापस मांगा लिया गया है।

 

बताया गया है कि दून की एसवीपी लाइफ साइसेंज में निर्मित डॉइक्लोमाइन हाइड्रोक्लोराइड, जेंटामाइसिन व मिथाइल कोबालामिन इंजेक्शन, मैनकेयर लेबोरेटरीज की को- ट्रिमोक्साजोल सिरप, हरिद्वार की कैवेंडिश बायो फार्मा में निर्मित ओमेप्राज़ोल डोम्पेरिडोन टैबलेट, टेक्निका लैब्स और फार्मा की एसीक्लोफेनाक पेरासिटामोल सेराटियोपेप्टिडेज टैबलेट, जेनेका हेल्थकेयर की लेवोसालबुटामोल एम्ब्रोक्सोल गुडफेनसिन सिरप, मैस्कोट हेल्थ सीरीज की लैक्टिक एसिड बेसिलस टैबलेट, स्काईमैप फार्मास्यूटिकल की मेटोप्रोलोल टैबलेट, जेबी रेमेडीज की ओफ्लाक्सासिन ओर्नीडाजोल टैबलेट, आर्किड बायोटेक की लैक्टोजर्म कैप्सूल के नमूने फेल हुए।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 हमारे समाचार ग्रुप (WhatsApp) से जुड़ें

👉 हमसे फेसबुक पर जुड़ने के लिए पेज़ को लाइक करें

👉 ख़बर सच है से टेलीग्राम (Telegram) पर जुड़ें

👉 हमारे पोर्टल में विज्ञापन एवं समाचार के लिए कृपया हमें [email protected] पर ईमेल करें या +91 97195 66787 पर संपर्क करें।

TAGS: dehradun news FDA suspended licenses of nine companies manufacturing these medicines Samples of 11 medicines manufactured in Uttarakhand failed in testing Uttrakhand news

More Stories

उत्तराखण्ड

नहाते समय गंगा के तेज बहाव में बहा एक विदेशी पर्यटक, पुलिस व एसडीआरएफ जुटी तलाश में 

ख़बर शेयर करें -

ख़बर शेयर करें –  खबर सच है संवाददाता    ऋषिकेश। यहां मुनि की रेती क्षेत्र में गंगा में नहाते समय तेज बहाव की चपेट में आने से एक विदेशी पर्यटक बह गया। पुलिस व एसडीआरएफ उसकी तलाश में जुटी है, लेकिन अभी तक उसका कुछ सुराग नहीं लग सका है।   प्राप्त जानकारी के अनुसार, […]

Read More
उत्तराखण्ड

संत, गुरू व परमात्मा का दर दाता का दर है भिखारी का नहीं – श्री हरि चैतन्य महाप्रभु  

ख़बर शेयर करें -

ख़बर शेयर करें – खबर सच है संवाददाता  गढीनेगी पधारने पर श्री हरि चैतन्य महाप्रभु का हुआ भव्य स्वागत गढीनेगी। प्रेमावतार, युगदृष्टा, श्री हरि कृपा पीठाधीश्वर स्वामी श्री हरि चैतन्य पुरी जी महाराज ने यहाँ श्री हरि कृपा धाम आश्रम में उपस्थित विशाल भक़्त समुदाय को संबोधित करते हुए कहा कि संत, गुरू व परमात्मा […]

Read More
उत्तराखण्ड

दहेज में पांच लाख रुपए न लाने पर ससुरालियों ने विवाहिता का हाथ तोड़ने के साथ ही निकाला घर से

ख़बर शेयर करें -

ख़बर शेयर करें –  खबर सच है संवाददाता   काशीपुर। दहेज में पांच लाख रुपए न लाने पर ससुरालियों ने विवाहिता से मारपीट कर उसका हाथ तोड़ने के साथ ही घर से निकाल दिया। विवाहिता ने पति समेत चार के खिलाफ केस दर्ज कराया है।       काशीपुर के ग्राम भगवंतपुर निवासी मनीषा ने […]

Read More