खानपुर के पूर्व विधायक कुंवर प्रणव सिंह चैंपियन ने अपने और पत्नी के नाम में किया बदलाव, अब कुंवर और कुवंरानी की जगह राजा प्रणव सिंह लंधौरा एवं रानी देवयानी बिष्ट लिखा जायेगा  

ख़बर शेयर करें -

खबर सच है संवाददाता

हरिद्वार। खानपुर के पूर्व विधायक कुंवर प्रणव सिंह चैंपियन ने अपने और पत्नी के नाम में बदलाव कराया है। उनकी पत्नी अब विष्ट उपनाम लगाएंगी। चैंपियन ने अपने नाम से कुंवर हटाकर राजा लगा दिया है। लक्सर खानपुर से विधायक रहे चैंपियन की ओर से बताया गया कि शुक्रवार को नाम में बदलाव किया गया। वह अब तक अपने नाम के आगे कुँबर और आखिर में चैंपियन लगाते थे। बताया कि अब उनका नाम राजा प्रणव सिंह लंधौरा होगा। कुंवर और चैंपियन दोनों शब्द अब उनकी ओर से जारी हलफनामे में नहीं है। उनकी पत्नी का नाम कुंवरानी देवयानी सिंह लिखा जाता था। अब उनका नया नाम रानी देवयानी विष्ट होगा। प्रणव सिंह का कहना है कि उनकी दादी गढ़वाल के बिष्ट राजपूत परिवार से आती है। मातृ शक्ति की पहचान अपने खानदान से होनी चाहिए। देहरादून में इसकी प्रक्रिया पूरी की गई।

सोशल मीडिया पर प्रणव सिंह चैंपियन  लिखा कि आपसे अपना एक महत्वपूर्ण निर्णय साझा कर रहे हैं। इस नव-नूतन वर्ष की बेला पर रानी साहिबा एवं हमने अपने-अपने नाम में तर्कसंगत परिवर्तन किया है, क्योंकि देवभूमि उत्तरांचल का निर्माण मातृशक्ति के बलिदान से हुआ है व हमारी दादीजी भी पौड़ी लैंसडाऊन के पट्टी ज्योत-स्यूँ से ग्राम सीमार खाल की निवासी थी , जिनका नाम था रानी सरस्वती बिष्ट तो रानी साहिबा ने उनको सम्मान देने हेतु भारत की patriarchal society के विरुद्ध जाकर , उत्तराखंड में मातृशक्ति को सम्मान देने हेतु अपना surname (जो पहचान होता है) बदल कर matriarchal dominance लागू करते हुए “बिष्ट“ रखा है। अब से वो होंगीं रानी देवयानी बिष्ट एवम हमनें विचारोप्रांत निर्णय लिया की अपने नाम में प्रत्याशित बदलाव करें। क्योंकि हम प्रतिनिधत्व करते हैं एक सांस्कृतिक धरोहर का , जो उत्तर प्रदेश व उत्तराखण्ड की साझी है, और जब “टिहरी गढ़वाल राज्य” पर “गोरखा आक्रमण” सन् 1799 में किया गया था, और दोनों ही “पवांर राजवंश” के राज्य थे तब टिहरी नरेश महाराज प्रदुमन शाह जी मदद माँगनें लंधौरा नरेश राजा रामदयाल सिंह जी के दरबार में पहुँचे। लंधौरा राज्य ने 12,000 की विशाल सेना सेनापति मनोहर सिंह व राजा लंधौरा के सुपुत्र कुँवर संवाई सिंह जी के सह-नेतृत्व में तत्काल गढ़वाल की अस्मिता की रक्षा को भेजी। सन् 1800 में देहरादून के खुड़बुड़ा में ज़बरदस्त युद्ध “टिहरी–लंधौरा संयुक्त सेना” एवम् “गोरखा सेना” के मध्य हुआ।लंधौरा का और गढ़वाल का रिश्ता दो सौ बाईस साल पुराना है।जिसका नवीनीकरण 101 वर्ष पूर्व तब हुआ, जब हमारे दादाजी ने दादीजी से विवाह किया।

अब हमारा नाम होगा
राजा प्रणव सिंह लंधौरा

आप सब की शुभकामनाओं के अभिलाषी

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 हमारे समाचार ग्रुप (WhatsApp) से जुड़ें

👉 हमसे फेसबुक पर जुड़ने के लिए पेज़ को लाइक करें

👉 ख़बर सच है से टेलीग्राम (Telegram) पर जुड़ें

👉 हमारे पोर्टल में विज्ञापन एवं समाचार के लिए कृपया हमें [email protected] पर ईमेल करें या +91 97195 66787 पर संपर्क करें।

TAGS: Ex MLA khanpur Former Khanpur MLA Kunwar Pranav Singh Champion changed his and his wife's name Khanpur news now Raja Pranav Singh Landhaura and Rani Devyani Bisht will be written instead of Kunwar and Kuvanrani Uttrakhand news

More Stories

उत्तराखण्ड

दुष्कर्म की शिकार नाबालिग किशोरी ने बच्चे को दिया जन्म, पुलिस ने आरोपी के खिलाफ पॉक्सो में किया मुकदमा दर्ज  

ख़बर शेयर करें -

ख़बर शेयर करें – खबर सच है संवाददाता    चम्पावत। जिले के लोहाघाट शहर में एक नाबालिग किशोरी ने दुष्कर्म के बाद बच्चे को जन्म दिया है। परिजनों की तहरीर के बाद पुलिस ने आरोपी के खिलाफ पॉक्सो सहित कई धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है।       थाना प्रभारी निरीक्षक अशोक कुमार ने […]

Read More
उत्तराखण्ड

विजिलेंस ने रिश्वतखोर अधिशासी अभियंता के घरो की तलाशी से बरामद किए 23.97 लाख रुपए 

ख़बर शेयर करें -

ख़बर शेयर करें – खबर सच है संवाददाता    हल्द्वानी। रिश्वत लेने के आरोपी लघु सिंचाई खंड नैनीताल के अधिशासी अभियंता कृष्ण सिंह कन्याल को विजिलेंस ने बुधवार देर रात गिरफ्तार किया था। जिसके बाद उसके घरों की तलाशी लेने पर विजिलेंस को 23.97 लाख रुपए बरामद हुए हैं। आरोपित को आज कोर्ट में पेश […]

Read More
उत्तराखण्ड

तेंदुए के बढ़ते हमले के चलते उत्तराखण्ड के श्रीनगर में लगेगा  नाइट कर्फ्यू 

ख़बर शेयर करें -

ख़बर शेयर करें –  खबर सच है संवाददाता    श्रीनगर। उत्तराखंड के श्रीनगर में अब नाइट कर्फ्यू लगेगा। यह निर्णय तेंदुए के बढ़ते हमले व बसावट के आस-पास बढ़ती चहलकदमी को देखते हुए लिया गया है। इसके लिए जिलाधिकारी डॉ आशीष चौहान ने जिला कार्यालय स्थित एनआईसी कक्ष में वर्चुअल माध्यम से संबंधित अधिकारियों की बैठक […]

Read More