ओखलकांडा सड़क हादसे के घायल एक मात्र जीवित मासूम की भी हुई उपचार के दौरान मौत  

ख़बर शेयर करें -

खबर सच है संवाददाता

हल्द्वानी। पिछले दस दिन से जिंदगी और मौत के बीच संघर्ष कर रहे ओखलकांडा सड़क हादसे में मां-पिता और भाई की मौत के बाद आज घायल योगेश ने भी दम तोड़ दिया है।  

बताते चलें कि नैनीताल जिले के ओखलकांडा ब्लॉक के छिड़ाखान-रीठा साहिब मोटर मार्ग में हुए सड़क हादसे में नौ लोगों की मौत हो गई थी। एक मात्र जीवित मासूम योगेश ने 10 वें दिन आज सुशीला तिवारी अस्पताल में दम तोड़ा। 9 वर्षीय योगेश के माता पिता और भाई 17 नवंबर को हुए सड़क हादसे में अपनी जान गवां चुके थे। योगेश का उपचार सुशीला तिवारी अस्पताल हल्द्वानी में चल रहा था। डॉक्टरों की पूरी टीम ने उसको बेहतर उपचार देने की पूरी कोशिश की। विधायक राम सिंह कैड़ा ने मासूम की मौत पर दुख जताया है।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 हमारे समाचार ग्रुप (WhatsApp) से जुड़ें

👉 हमसे फेसबुक पर जुड़ने के लिए पेज़ को लाइक करें

👉 ख़बर सच है से टेलीग्राम (Telegram) पर जुड़ें

👉 हमारे पोर्टल में विज्ञापन एवं समाचार के लिए कृपया हमें [email protected] पर ईमेल करें या +91 97195 66787 पर संपर्क करें।

TAGS: Haldwani news The only surviving innocent child injured in Okhalkanda road accident also died during treatment Uttrakhand news

More Stories

उत्तराखण्ड

कूड़ा वाहन गहरी खाई में गिरने से वाहन सवार एक ब्यक्ति की हुई मौत, चालक घायल  

ख़बर शेयर करें -

ख़बर शेयर करें -खबर सच है संवाददाता नैनीताल। यहां नगर पालिका का कूड़ा वाहन राजभवन मार्ग पर डीएसबी परिसर के पास अनियंत्रित होकर करीब 500 फीट गहरी खाई में जा गिरा। वाहन सवार एक व्यक्ति की मौके पर मौत हो गई, जबकि चालक गंभीर रूप से घायल हो गया। वाहन सवार एक अन्य व्यक्ति के […]

Read More
उत्तराखण्ड

ऑनर किलिंग का पुलिस ने पर्दाफाश करते हुए आरोपी माँ-बाप को किया गिरफ्तार  

ख़बर शेयर करें -

ख़बर शेयर करें -खबर सच है संवाददाता रूद्रपुर। यहां पुलिस ने आरोपी दंपती को गिरफ्तार करते हुए किशोरी की मौत के रहस्य से पर्दा उठाते हुए स्पष्ट किया है कि किशोरी ने आत्महत्या नहीं बल्कि मां बाप ने प्रेम प्रसंग से नाराज होकर उसकी गला दबाकर हत्या की थी। इसके बाद इस मामले को फांसी लगाकर […]

Read More
उत्तराखण्ड

मुख्य सचिव ने सरकारी स्कूल में दाखिले से मना करने वाले प्रधानाचार्य या शिक्षकों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के दिए निर्देश 

ख़बर शेयर करें -

ख़बर शेयर करें –  खबर सच है संवाददाता देहरादून। मुख्य सचिव राधा रतूड़ी ने सख्त निर्देश दिए हैं कि राज्य में किसी भी बच्चे को किसी भी कारण से सरकारी स्कूल में दाखिले से मना करने वाले प्रधानाचार्य या शिक्षकों के खिलाफ प्रथम दृष्टया कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाएगी। साथ ही कहा कि राज्य […]

Read More