दून पुलिस ने बिहार स्थित कंट्रोल हाउस से रिलायंस ज्वैलरी शोरूम डकैती के दो अभियुक्तों को किया गिरफ्तार 

ख़बर शेयर करें -

 

खबर सच है संवाददाता

देहरादून। देहरादून के रिलायंस ज्वैलरी शोरूम डकैती में पुलिस को बड़ी सफलता मिली है। दून पुलिस ने गैंग के बिहार स्थित कंट्रोल हाउस पर छापा मारकर बदमाशों को फंडिंग करने वाले आरोपी समेत दो अभियुक्तों को गिरफ्तार किया है। पुलिस को घटना में शामिल बदमाशों के संबंध में महत्वपूर्ण साक्ष्य भी मिले हैं।

धनतेरस से पहले दिन हुई डकैती की वारदात के खुलासे में लगी पुलिस टीमें गैंग को ट्रेस करने में जुटी हैं। कटनी और लातूर (महाराष्ट्र) में भी दून जैसी घटनाएं हुई हैं। वहां से संपर्क करने के बाद दून पुलिस को गैंग की शातिराना कार्यप्रणाली के बारे में पता चला। इस बीच मिली जानकारी के आधार पर दून पुलिस ने बिहार के वैशाली स्थित गैंग के कंट्रोल हाउस पर छापा मारा। वहां से अमृत कुमार और विशाल कुमार को गिरफ्तार किया गया। पुलिस के मुताबिक अमृत गैंग के लिए फंडिंग करवाता है। पिछले दिनों अंबाला में गिरफ्तार रोहित जिसने बंगाल में घटना के दौरान फंडिंग की थी, उससे अमृत के संबंध पता लगे हैं। विशाल को गैंग के लिए लॉजिस्टिक जैसे अभियुक्तों द्वारा घटना के वक्त पहने कपड़े, टोपी आदि मुहैया कराने का आरोप है। विशाल गैंग के लिए वर्चुअल फोन प्रोवाइड करवाता था। जिससे गैंग के सदस्यों की लोकेशन ट्रेस करना मुश्किल होता था। दून पुलिस को कई और महत्वपूर्ण जानकारियां और साक्ष्य मिले हैं। आठ नवंबर को यमुनानगर में वारदात में अभियुक्त पवन को पकड़ा गया था। पवन ने भी पुष्टि की की सुबोध गैंग के सदस्य देहरादून में घटना करने आए थे। दून पुलिस गिरफ्तार दोनों आरोपियों का ट्रांजिट रिमांड लेने में जुट गई है। सुबोध उर्फ छोटू गैंग का संचालन बिहार स्थित वैशाली में कंट्रोल हाउस से हो रहा था। देहरादून में घटना में शामिल अभियुक्तों को भी यहीं से कंट्रोल किया जा रहा था। घटना से पहले सभी सदस्य कंट्रोल हाउस में एकत्रित होते थे,वहीं टास्क,मोबाइल फोन,गाड़ी,कपड़े व असलहे आदि उपलब्ध कराए जाते थे। घटना के बाद भी गैंग वहीं एकत्रित होता था। फिर आगे की रणनीति बनाई जाती थी। घटना के वक्त सेंसर अलर्ट अथवा मोबाइल फोन से किसी को सूचना न हो पाए इसके लिए गैंग पोर्टेबल सिग्नल जैमर का इस्तेमाल करता है। जैमर की वजह से सभी सेंसर और मोबाइल फोन निष्क्रिय हो जाते हैं। कटनी (मध्य प्रदेश) और सांगली (पश्चिम बंगाल) की घटनाओं में गैंग ने इसी जैमर का इस्तेमाल किया था। वारदात से पहले गैंग हरिद्वार में एक गेस्ट हाउस में ठहरा था। घटना के वक्त बदमाशों ने जो कपड़े पहन रखे थे वे नजीबाबाद में एक स्टोर से खरीदे गए थे। पुलिस को अभियुक्तों के खाते में घटना से पहले ट्रांजक्शन के बारे में भी जानकारी मिल गई है।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 हमारे समाचार ग्रुप (WhatsApp) से जुड़ें

👉 हमसे फेसबुक पर जुड़ने के लिए पेज़ को लाइक करें

👉 ख़बर सच है से टेलीग्राम (Telegram) पर जुड़ें

👉 हमारे पोर्टल में विज्ञापन एवं समाचार के लिए कृपया हमें [email protected] पर ईमेल करें या +91 97195 66787 पर संपर्क करें।

TAGS: crime news dehradun news Doon Police arrested two accused of Reliance Jewelery showroom robbery from Control House in Bihar Uttrakhand news

More Stories

उत्तराखण्ड

चारधाम यात्रा के रजिस्ट्रेशन के नाम पर दिल्ली की एक टूरिस्ट कंपनी ने की 11 तीर्थ यात्रियों के साथ धोखाधड़ी

ख़बर शेयर करें -

ख़बर शेयर करें – खबर सच है संवाददाता  ऋषिकेश। आंध्र प्रदेश के 11 तीर्थ यात्रियों के साथ चारधाम यात्रा के रजिस्ट्रेशन को लेकर धोखाधड़ी होने का मामला प्रकाश में आया है। आरोप है कि दिल्ली की एक टूरिस्ट कंपनी द्वारा उन्हें मई का फर्जी रजिस्ट्रेशन थमा दिया गया, जिसका पता उन्हें ऋषिकेश में आने पर […]

Read More
उत्तराखण्ड

विजिलेंस ने पंद्रह हजार की रिश्वत लेते वन दरोगा को किया गिरफ्तार 

ख़बर शेयर करें -

ख़बर शेयर करें –  खबर सच है संवाददाता    पौड़ी। उत्तराखंड विजिलेंस की टीम ने बड़ी कार्रवाई करते हुए वन दारोगा को रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ गिरफ्तार किया है। बताया जा रहा है कि आरोपी वन दारोगा ने सरकारी काम के लिए पीड़ित से 15000 हजार रुपए की रिश्वत मांगी थी, जिसकी शिकायत पीड़ित […]

Read More
उत्तराखण्ड

पुण्यतिथि पर कांग्रेसियों ने स्वराज आश्रम में श्रद्धांजलि सभा कर राजीव गांधी को किया याद

ख़बर शेयर करें -

ख़बर शेयर करें – खबर सच है संवाददाता  हल्द्वानी। आधुनिक भारत के निर्माता, पूर्व प्रधानमंत्री, भारत रत्न स्वर्गीय राजीव गांधी जी को पुण्यतिथि पर आज कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने स्वराज आश्रम में पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि अर्पित की। हल्द्वानी विधायक सुमित हृदयेश ने कहा कि आधुनिक भारत के निर्माण में स्व. राजीव गांधी जी योगदान अविस्मरणीय […]

Read More