अब नहीं चलेगी निजी विद्यालयों की मनमानी, पीपीएसए ने प्रदेश के 176 स्कूलों के प्रबंधक व प्रधानाचार्यों को दिए निर्देश

ख़बर शेयर करें -

 

 खबर सच है संवाददाता 

देहरादून। अब अभिभावकों को निजी स्कूलों की फीस में मनमानी बढ़ोतरी की शिकायत नहीं होगी। पेरेंट टीचर मीटिंग (पीटीएम) में अभिभावकों की सहमति पर ही वार्षिक फीस बढ़ोतरी की जाएगी। प्रिंसिपल प्रोगेसिव स्कूल्स एसोसिएशन (पीपीएसए) ने इस संबंध में एसोसिएशन से जुड़े प्रदेशभर के 176 स्कूलों के प्रबंधक व प्रधानाचार्यों को निर्देश दिए हैं। नया सत्र शुरू होते ही अभिभावक सबसे ज्यादा परेशान निजी स्कूलों की मनमानी फीस बढ़ोतरी से रहते हैं। अभिभावक इस संबंध में विभागीय अधिकारियों के पास शिकायत भी करते हैं। समस्या का समाधान न होने से उन्हें निराश होना पड़ता है।

यह भी पढ़ें 👉  होटल चैक आउट से पहले नकली डेड बॉडी बनाकर प्रैंक करना तीन स्टूडेंट्स को पड़ा भारी, पुलिस ने नगद धनराशि जमा करवाकर किया दण्डित 

सभी 176 स्कूलों निर्देश जारी

अभिभावकों को मनमानी फीस बढ़ोतरी की पीड़ा को समझते हुए पीपीएसए ने प्रदेशभर के एसोसिएशन से जुड़े सभी 176 स्कूलों निर्देश जारी किए है। इनमें एसोसिएशन से जुड़े देहरादून के 120 स्कूल भी शामिल हैं। पीपीएसए ने निर्देश में कहा है कि वार्षिक फीस बढ़ोतरी के लिए प्रत्येक वर्ष नवंबर अथवा दिसंबर में पेरेंट टीचर मीटिंग (पीटीएम) में प्रस्ताव रखा जाए। ऐसे में अभिभावकों की सहमति होने के बाद यदि नए सत्र में प्रस्ताव के तहत फीस बढ़ोतरी होगी तो उन्हें भी परेशानी नहीं होगी। पीपीएसए के अध्यक्ष डा. प्रेम कश्यप ने कहा कि अब पीटीएम में ही अभिभावकों की सहमति के बाद फीस बढ़ोतरी की जाएगी। इससे आने वाले समय में अभिभावक स्कूलों पर मनमानी फीस बढ़ोतरी बढ़ोतरी का आरोप नहीं लगा पाएंगे। साथ ही अभिभावकों को भी परेशानी नहीं होगी। बताया कि अभी तक 80 प्रतिशत स्कूल सहमति भी जता चुके हैं।

यह भी पढ़ें 👉  रमक गांव में हुए खूनी वारदात में दो लोगों की मौत के साथ ही दो लोग अस्पताल में लड़ रहें जिंदगी की जंग 

संगठन के निर्णय से खुश अभिभावक

नेशनल एसोसिएशन फोर पैरेंट्स एंड स्टूडेंट्स राइट्स के अध्यक्ष आरिफ खान ने कहा कि प्रत्येक अभिभावक यही चाहता है कि उसकी सहमति के बाद ही फीस में बढ़़ोतरी हो। लेकिन, अब तक निजी स्कूल मनमानी फीस बढ़ाते चले आ रहे हैं, जिस कारण उन्हें विरोध का सामना भी करना पड़ता है। कहा कि पीटीएम में फीस बढ़ोतरी के प्रस्ताव लाने व अभिभावकों की सहमति के बाद ही फीस बढ़ोतरी करने के पीपीएसए के निर्णय अभिभावकों के हित में है।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 हमारे समाचार ग्रुप (WhatsApp) से जुड़ें

👉 हमसे फेसबुक पर जुड़ने के लिए पेज़ को लाइक करें

👉 ख़बर सच है से टेलीग्राम (Telegram) पर जुड़ें

👉 हमारे पोर्टल में विज्ञापन एवं समाचार के लिए कृपया हमें [email protected] पर ईमेल करें या +91 97195 66787 पर संपर्क करें।

TAGS: dehradun news fees can be increased only after the consent in the parent teacher meeting Now the arbitrariness of private schools will not work PPSA gave instructions to the managers and principals of 176 schools of the state PPSA's instructions to stop the arbitrariness of private schools Principal Progressive Schools Association Instructions uttarakhand news

More Stories

उत्तराखण्ड

बाघ ने साइकिल सवार बुजुर्ग को बनाया अपना निवाला, जंगल से बरामद हुआ क्षत विक्षत शव  

ख़बर शेयर करें -

ख़बर शेयर करें –        खबर सच है संवाददाता      खटीमा। यहां चकरपुर स्थित वनखंडी मंदिर के पीछे बाघ ने साइकिल सवार एक बुजुर्ग को निवाला बना लिया। वह बुजुर्ग के शव को घसीटता हुआ झाड़ियों में ले गया। कुछ दिन पहले ही इसी स्थान पर शौच के लिए गए बुजुर्ग पर […]

Read More
उत्तराखण्ड

हल्द्वानी एसडीएम कार्यालय में आत्मदाह की धमकी देने वाले हिंदूवादी स्वामियों को पुलिस ने किया नजरबंद  

ख़बर शेयर करें -

ख़बर शेयर करें –      खबर सच है संवाददाता    कोटद्वार। पौड़ी जिले के कोटद्वार कोतवाली पुलिस ने हल्द्वानी एसडीएम कार्यालय में आत्मदाह करने की धमकी देने वाले डासना गाजियाबाद में महामंडलेश्वर स्वामी नरसिंहानंद गिरी के शिष्य यति परमानंद सरस्वती उर्फ दीपक बजरंगी और यति स्वरूपानंद सरस्वती को सिंचाई विभाग के बंगले में नजरबंद […]

Read More
उत्तराखण्ड

संत निरंकारी चैरिटेबल फाउंडेशन द्वारा हरगोविंद सुयाल स्कूल में होगा अंतराष्ट्रीय योग दिवस पर योगा कार्यक्रम 

ख़बर शेयर करें -

ख़बर शेयर करें –          खबर सच है संवाददाता              हल्द्वानी। संत निरंकारी मिशन द्वारा ‘अंतराष्ट्रीय योग दिवस’ के अवसर पर शुक्रवार, 21 जून को संपूर्ण भारतवर्ष में स्थापित संत निरंकारी मिशन की विभिन्न शाखाओं में प्रातः 6.00 बजे से स्थानीय योग प्रशिक्षकों के निर्देशन द्वारा खुले […]

Read More