अंकिता के माता-पिता द्वारा वीआईपी को लेकर सोशल मीडिया में आरोप लगाए जाने के बाद गर्माया अंकिता हत्याकांड 

ख़बर शेयर करें -

 

खबर सच है संवाददाता

देहरादून। अंकिता के माता-पिता की ओर से कथित तौर पर वीआईपी को लेकर सोशल मीडिया में आरोप लगाए जाने के बाद एक बार फिर गर्मा गया है बहुचर्चित अंकिता हत्याकांड का मामला। कांग्रेस ने भी अंकिता भंडारी न्याय यात्रा शुरू कर दी है। ऐसे में पुलिस की ओर से भी बयान जारी किया गया है। जिसमें साक्ष्य उपलब्ध कराने पर कार्रवाई की बात कही गई है।

पुलिस मुख्यालय के प्रवक्ता और पुलिस महानिरीक्षक पी/एम नीलेश आनंद भरणे ने बताया कि मीडिया एवं सोशल मीडिया पर अंकिता भण्डारी के माता-पिता द्वारा वर्तमान में अंकिता भण्डारी केस से सम्बन्धित तथाकथित वीआईपी के बारे में कई प्रकार के गंभीर आरोप लगाए गए हैं। इसमें बीजेपी के एक वरिष्ठ नेता को नामित करते हुए ये आरोप लगाया है कि पूर्व में हुई विवेचना में इन महानुभाव से संबंधित तथ्यों को सम्मिलित नहीं किया गया है और इनके संबंध में अग्रिम विवेचना की मांग की गई है। मामला अभी कोर्ट में विचाराधीन है। साथ ही एसआईटी की विवेचना के दौरान वीरेन्द्र भण्डारी और अंकिता भण्डारी की मां सहित सभी गवाहों के विस्तृत बयान अंकित किये गये थे और विचारण के दौरान इनके द्वारा न्यायालय में भी अपने कथन अंकित करा लिये गये हैं।जिसमें न तो विवेचना के दौरान और न ही न्यायालय में गवाही के दौरान उनके द्वारा किसी वीवीआईपी के बारे में कोई बयान या साक्ष्य प्रस्तुत किए गए हैं। आरोप पत्र दाखिल होने के लगभग 13 माह के बाद मीडिया में पुलिस विभाग की कार्यवाही पर इस प्रकार आरोप लगाना दुर्भाग्यपूर्ण है। उन्होंने कहा है कि पुलिस विभाग की एसआईटी का नेतृत्व एक डीआईजी स्तर की अनुभवी महिला अधिकारी द्वारा किया गया था। यदि अंकिता के माता पिता के पास इस केस से संबंधित कोई नए साक्ष्य आए हैं तो वो आज भी एसआईटी के सामने उन्हें प्रस्तुत करने के लिए स्वतंत्र है। पुलिस विभाग उनके द्वारा प्रस्तुत सभी नए तथ्यों के बारे में विधिसम्मत और त्वरित कार्यवाही करेगा। नीलेश आनंद भरणे ने बयान जारी कर कहा है कि पुलिस अंकिता के माता पिता के प्रति पूरी सहानुभूति रखते है और उन्हें पुनः विश्वास दिलाते हैं कि अंकिता को न्याय दिलाने में हम कोई कसर नहीं छोड़ेंगे।

यह भी पढ़ें 👉  जिला सहकारी बैंक भर्ती मामले में सवा दो साल बाद कार्रवाई के बाद 12 कर्मचारियों की सेवाएं समाप्त करने का निर्णय

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 हमारे समाचार ग्रुप (WhatsApp) से जुड़ें

👉 हमसे फेसबुक पर जुड़ने के लिए पेज़ को लाइक करें

👉 ख़बर सच है से टेलीग्राम (Telegram) पर जुड़ें

👉 हमारे पोर्टल में विज्ञापन एवं समाचार के लिए कृपया हमें [email protected] पर ईमेल करें या +91 97195 66787 पर संपर्क करें।

TAGS: Ankita murder case heated up after Ankita's parents made allegations on social media regarding VIP dehradun news Uttrakhand news

More Stories

उत्तराखण्ड

होटल चैक आउट से पहले नकली डेड बॉडी बनाकर प्रैंक करना तीन स्टूडेंट्स को पड़ा भारी, पुलिस ने नगद धनराशि जमा करवाकर किया दण्डित 

ख़बर शेयर करें -

ख़बर शेयर करें –      खबर सच है संवाददाता    नैनीताल। दिनांक 15 जून 2024 को नैनीताल स्थित एक होटल में रूकने आये 03 छात्रों द्वारा चैक आउट करने से पहले सफ़ेद चादर में लपेट कर डेड बॉडी बनाकर चैक आउट कर चले गये। सफाई कर्मचारी जब रूम साफ करने आये तो बैड में  […]

Read More
उत्तराखण्ड

रमक गांव में हुए खूनी वारदात में दो लोगों की मौत के साथ ही दो लोग अस्पताल में लड़ रहें जिंदगी की जंग 

ख़बर शेयर करें -

ख़बर शेयर करें –  खबर सच है संवाददाता  चम्पावत। चंपावत जिले के पाटी ब्लॉक के रमक गांव में हुई खूनी वारदात में अब तक दो लोगों की मौत हो चुकी है। 16 जून को हमलावर की मौत हुई और एक दिन बाद 17 जून को एक जख्मी युवक की इलाज के दौरान हल्द्वानी के सुशीला […]

Read More
उत्तराखण्ड

उत्तरकाशी के डोडीताल ट्रैक पर गए लोक निर्माण विभाग में सहायक अभियंता की हुई मौत 

ख़बर शेयर करें -

ख़बर शेयर करें –      खबर सच है संवाददाता    उत्तरकाशी। उत्तरकाशी के डोडीताल ट्रैक पर मांझी से एक किमी पहले दो स्थानीय ट्रैकर्स के फंसने की आपातकालीन एसओएस कॉल प्राप्त हुई है। डीएम  डॉ. मेहरबान सिंह बिष्ट ने रेस्क्यू के लिए एसडीआरएफ, वन विभाग व पुलिस विभाग की टीमों को तुरंत मौके पर […]

Read More