भाजपा ने राज्य में शराब सस्ती और बिजली-पानी-पढ़ाई महंगी कर अपना असली चरित्र उजागर कर दिया – यशपाल आर्य  

ख़बर शेयर करें -

खबर सच है संवाददाता

हल्द्वानी। उत्तराखंड के नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य ने आरोप लगाया कि, उत्तराखंड की भाजपा सरकार ने राज्य में शराब सस्ती और बिजली-पानी-पढ़ाई महंगी कर अपना असली चरित्र उजागर कर दिया है। उन्होंने कहा कि सरकार के कु-निर्णयों से राज्य भर में एक नया नारा – ब्लैंडर (शराब) सस्ती, सिलेंडर (रसोई गैस) महंगा’, बच्चे-बच्चे की जुबान पर चढ़ गया है। उन्होंने कहा कि, हाल ही में राज्य विद्युत नियामक आयोग ने उत्तराखंड उर्जा निगम के बिजली की दरों में 9.64 फीसदी तक की बढ़ोत्तरी के प्रस्ताव को स्वीकृत कर दिया है, इससे प्रदेश के 27.50 लाख उपभोक्ता प्रभावित होंगे।

आर्य ने बताया कि, पिछले अप्रैल से लेकर हाल की बृद्धि तक एक साल के भीतर चौथी बार बिजली की कीमतें बढ़ाकर सरकार ने ये सिद्ध कर दिया है कि वह जनता को लूटने का कोई अवसर नहीं गँवायेगी। नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि बिजली की दरों को बढ़ाने के बाद भी निर्दयी राज्य सरकार रुकी नही उसने उत्तराखंड जल संस्थान के पानी की दरों में 15 फीसदी बड़ाने के प्रस्ताव को भी मंजूरी दे दी है। इससे पहली अप्रैल से प्रदेश भर में पानी प्रति तिमाही 150 से 200 रुपये मंहगा हो जाएगा। यशपाल आर्य ने कहा कि, पिछले एक वर्ष के अन्तराल में आम जरूरत की चीजों के दामों में कई गुना बड़ गए हैं। आम जरूरत की चीज़ों के दामों को नियंत्रित रखने केन्द्र व राज्य सरकार के बस में नही रह गया है। राष्ट्रीय स्तर पट रसोई गैस, पेट्रोलियम पदार्थ तथा खाद्य पदार्थों के लगातार बढ़ रहे दामों के बाद राज्य सरकार द्वारा बिजली और पानी की दरों में भारी वृद्धि कर जनता को मंहगाई के दोहरे बोझ से लादने का काम किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि ये उत्तराखंड का दुर्भाग्य ही है कि, यंहा के जिन निवासियों ने बिजली परियोजनाओं के निर्माण के लिए गांव- शहरों और संस्कृति का अस्तित्व तक गवांया अब उन्हें ही को महंगी बिजली खरीदने को मजबूर किया जा रहा है। नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि,1 अप्रैल से राज्य के स्कूलों में नया शैक्षिक सत्र शुरू हो गया है। इस साल बच्चों की ड्रेस, किताब – कापियों की कीमतों में भी बड़ा उछाल आया है। सरकार ने इस सत्र में स्कूलों की फीस में बढ़ोत्तरी कर अभिवावकों के जले पर नमक छिड़कने का काम किया है। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड राज्य निर्माण आन्दोलन के दौरान यंहा की मातृ शक्ति ने पुर- जोर तरीके से शराब का विरोध किया था। पूर्व में राज्य के पर्वतीय क्षेत्र में “नशा नही रोजगार दो” जैसे आंदोलन चले।आर्य ने अफसोस व्यक्त करते हुए कहा कि, उस राज्य में सरकार की प्राथमिकता शिक्षा न होकर शराब होना एक दुर्भाग्यपूर्ण स्थिति है। नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि, यह महीना भेंटुली और फुल्यारियो का था, जब बेटियां को मायके से और बच्चों को घर-घर से विभिन्न प्रकार की खाद्यान्न सामग्री और वस्त्र उपहार स्वरूप भेजे जाते या दिए जाते थे 0ऐसे पवित्र महीने में सरकार ने सस्ती शराब और महंगी राशन विजली- पानी-पढ़ाई कर देवभूमि की महिलाओं और बच्चों का अपमान किया है।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 हमारे समाचार ग्रुप (WhatsApp) से जुड़ें

👉 हमसे फेसबुक पर जुड़ने के लिए पेज़ को लाइक करें

👉 ख़बर सच है से टेलीग्राम (Telegram) पर जुड़ें

👉 हमारे पोर्टल में विज्ञापन एवं समाचार के लिए कृपया हमें [email protected] पर ईमेल करें या +91 97195 66787 पर संपर्क करें।

TAGS: BJP has exposed its true character by making liquor cheap and electricity-water-education expensive in the state - Yashpal Arya Haldwani news Uttrakhand news

More Stories

उत्तराखण्ड

नहाते समय गंगा के तेज बहाव में बहा एक विदेशी पर्यटक, पुलिस व एसडीआरएफ जुटी तलाश में 

ख़बर शेयर करें -

ख़बर शेयर करें –  खबर सच है संवाददाता    ऋषिकेश। यहां मुनि की रेती क्षेत्र में गंगा में नहाते समय तेज बहाव की चपेट में आने से एक विदेशी पर्यटक बह गया। पुलिस व एसडीआरएफ उसकी तलाश में जुटी है, लेकिन अभी तक उसका कुछ सुराग नहीं लग सका है।   प्राप्त जानकारी के अनुसार, […]

Read More
उत्तराखण्ड

संत, गुरू व परमात्मा का दर दाता का दर है भिखारी का नहीं – श्री हरि चैतन्य महाप्रभु  

ख़बर शेयर करें -

ख़बर शेयर करें – खबर सच है संवाददाता  गढीनेगी पधारने पर श्री हरि चैतन्य महाप्रभु का हुआ भव्य स्वागत गढीनेगी। प्रेमावतार, युगदृष्टा, श्री हरि कृपा पीठाधीश्वर स्वामी श्री हरि चैतन्य पुरी जी महाराज ने यहाँ श्री हरि कृपा धाम आश्रम में उपस्थित विशाल भक़्त समुदाय को संबोधित करते हुए कहा कि संत, गुरू व परमात्मा […]

Read More
उत्तराखण्ड

दहेज में पांच लाख रुपए न लाने पर ससुरालियों ने विवाहिता का हाथ तोड़ने के साथ ही निकाला घर से

ख़बर शेयर करें -

ख़बर शेयर करें –  खबर सच है संवाददाता   काशीपुर। दहेज में पांच लाख रुपए न लाने पर ससुरालियों ने विवाहिता से मारपीट कर उसका हाथ तोड़ने के साथ ही घर से निकाल दिया। विवाहिता ने पति समेत चार के खिलाफ केस दर्ज कराया है।       काशीपुर के ग्राम भगवंतपुर निवासी मनीषा ने […]

Read More