ज्वेलरी शोरूम डकैती में पुलिस को मिले ठोस सबूत, प्रयुक्त चोरी की अर्टिगा कार बरामद कर धरपकड़ को भेजी पुलिस टीमें  

ख़बर शेयर करें -

खबर सच है संवाददाता

देहरादून। देहरादून के राजपुर रोड स्थित रिलायंस कंपनी के ज्वेलरी शोरूम में हुई डकैती में प्रयुक्त वाहन तो पुलिस ने बरामद कर लिए, पर आरोपी हत्थे नहीं चढ़ सके हैं। फॉरेंसिक जांच में पता चला है कि डकैती में प्रयुक्त कार लूट की थी। बदमाश उसके गियर बॉक्स में हथियार छुपाकर दून लाए थे। लिहाजा, इनकी धरपकड़ के लिए चार राज्यों में पुलिस की टीमें भेज दी गई हैं।

बीते गुरुवार की सुबह रिलायंस का ज्वेलरी शोरूम खुलते ही बदमाश अंदर घुस आए थे। उन्होंने यहां कर्मचारियों को पिस्टलों के बल पर बंधक बनाकर बीस करोड़ रुपये से अधिक के गहने ले लिए थे। इस वारदात में प्रयुक्त दो बाइक और एक कार को आरोपी सहसपुर और सेलाकुई क्षेत्र में छोड़कर भाग गए थे। एसएसपी अजय सिंह ने बताया कि इस प्रकरण में पुलिस के हाथ अहम सुराग लगे हैं। बदमाशों ने डकैती में प्रयुक्त कार जून में यमुना एक्सप्रेस-वे पर आगरा से लूटी थी। पुलिस ने कार का फॉरेंसिक परीक्षण कराया तो पता चला कि कार को दो लोगों ने जून में दिल्ली से आगरा के लिए बुक किया था। आगरा के कंदौली थाना क्षेत्र में चालक को बंधक बनाकर कार लूट ली गई थी। लिहाजा, उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, पश्चिम बंगाल और मध्य प्रदेश में टीमें भेजी गई हैं। डकैती डालने आए बदमाशों ने पुलिस से बचने के लिए पूरी फील्डिंग बिछाई हुई थी। आरोपियों ने दोपहिया वाहन दो महीने पहले ही दिल्ली से चोरी कर लिए थे। इन वाहनों पर फर्जी नंबर प्लेट लगाई गई थी। एक बाइक पर मेरठ एवं दूसरी बाइक पर फतेहपुर का नंबर दर्ज था। आरोपियों की कार जो सेलाकुई क्षेत्र में मिली, उसके अंदर तीन फर्जी नंबर प्लेट भी बरामद हुईं थी। वारदात के बाद दून और इसके बॉर्डर पर सघन अभियान चलाया गया था। बदमाशों ने अपनी बाइकें सहसपुर थाना क्षेत्र और कार सेलाकुई क्षेत्र में छोड़ी थीं। यहां से बदमाश कहां गए, यह पता नहीं चला है। संभावना यह भी है कि बदमाश उत्तराखंड में ही छुपे हों। बदमाशों ने वारदात से पहले कई माह तक रैकी की थी। वारदात के कुछ दिन पहले वो हरिद्वार में रुके थे। एसएसपी ने बताया कि आरोपियों ने हथियार छुपाने के लिए जिस तरीके से कार में सीक्रेट बॉक्स बनाया था, ऐसे हथकंडे पूर्व में महाराष्ट्र, बंगाल और महाराष्ट्र की घटनाओं में अपनाए गए हैं।
एसएसपी ने बताया कि आरोपियों ने कार का इंजन और चेसिस नंबर घिस दिया था। लिहाजा, पुलिस को कार की फॉरेंसिक जांच करवानी पड़ी। उन्होंने बताया कि जांच में गियर बॉक्स के नीचे एक सीक्रेट बॉक्स मिला है, जिसमें हथियार छुपाए गए थे।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 हमारे समाचार ग्रुप (WhatsApp) से जुड़ें

👉 हमसे फेसबुक पर जुड़ने के लिए पेज़ को लाइक करें

👉 ख़बर सच है से टेलीग्राम (Telegram) पर जुड़ें

👉 हमारे पोर्टल में विज्ञापन एवं समाचार के लिए कृपया हमें [email protected] पर ईमेल करें या +91 97195 66787 पर संपर्क करें।

TAGS: dehradun news Police found concrete evidence in jewelery showroom robbery recovered used stolen Ertiga car and sent police teams to nab Uttrakhand news

More Stories

उत्तराखण्ड

पति-पत्नी के बीच रक्त-रंजीत संघर्ष में पत्नी ने तवे और फंटी से कर दी पति की हत्या 

ख़बर शेयर करें -

ख़बर शेयर करें – खबर सच है संवाददाता  बाजपुर। पति-पत्नी के बीच बुधवार रात करीब ढाई बजे हुए रक्त-रंजीत संघर्ष का रूप ले लिया। आत्मरक्षा में पत्नी ने पास में रखे तवे और लकड़ी की फंटी से पति के सिर पर जोरदार वार कर दिए, जिससे पति की मौत हो गई। गुरुवार को पुलिस ने […]

Read More
उत्तराखण्ड

दुष्कर्म की शिकार नाबालिग किशोरी ने बच्चे को दिया जन्म, पुलिस ने आरोपी के खिलाफ पॉक्सो में किया मुकदमा दर्ज  

ख़बर शेयर करें -

ख़बर शेयर करें – खबर सच है संवाददाता    चम्पावत। जिले के लोहाघाट शहर में एक नाबालिग किशोरी ने दुष्कर्म के बाद बच्चे को जन्म दिया है। परिजनों की तहरीर के बाद पुलिस ने आरोपी के खिलाफ पॉक्सो सहित कई धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है।       थाना प्रभारी निरीक्षक अशोक कुमार ने […]

Read More
उत्तराखण्ड

विजिलेंस ने रिश्वतखोर अधिशासी अभियंता के घरो की तलाशी से बरामद किए 23.97 लाख रुपए 

ख़बर शेयर करें -

ख़बर शेयर करें – खबर सच है संवाददाता    हल्द्वानी। रिश्वत लेने के आरोपी लघु सिंचाई खंड नैनीताल के अधिशासी अभियंता कृष्ण सिंह कन्याल को विजिलेंस ने बुधवार देर रात गिरफ्तार किया था। जिसके बाद उसके घरों की तलाशी लेने पर विजिलेंस को 23.97 लाख रुपए बरामद हुए हैं। आरोपित को आज कोर्ट में पेश […]

Read More