अपहृता बालिकाओं को किया सकुशल बरामद करने के साथ पुलिस ने अपहरण में शामिल पांच आरोपियों को भी किया गिरफ्तार 

ख़बर शेयर करें -
 
 
 
खबर सच है संवाददाता 
 
हल्द्वानी। विगत 20 जून को अचानक लापता दो नाबालिग छात्राओं को मंगलवार (आज) पुलिस ने सकुशल बरामद करते हुए अपहरण के पांच आरोपियों को भी गिरफ्तार किया है।
 
प्राप्त जानकारी के अनुसार विगत 21जून  को राधा गोस्वामी पत्नी स्व0 रविन्द्र नाथ गोस्वामी निवासी वार्ड न0- 14, जवाहर नगर, थाना वनभूलपुरा जिला नैनीताल द्वारा थाना हाजा पर तहरीर दी थी कि उसकी पुत्री उम्र 15 वर्ष व किरायेदार की पुत्री उम्र 12 वर्ष दिनाँक 20 जून को समय लगभग 7.00 बजे सांय घर से बिना बताये कही चले गये है, जो अभी तक घर वापस नही आये है,उक्त सूचना पर थाना बनभूलपुरा पर FIR NO  134/2024 U/S 365 IPC बनाम अज्ञात पंजीकृत कर विवेचना उ0नि0 विनोद घई के सुपुर्द की गयी। जिसके पश्चात एसओजी व सर्विलांस को सम्मिलित करते हुये 04 टीमो का गठन किया गया। टीमो द्वारा गुमशुदाओ के रिश्तेदारो, सगे सम्बन्धी के बारे मे जानकारी करते हुये सभी सम्भावित स्थानो पर तलाश किया गया तथा गुमशुदाओ के घरो के आस पास, रोडवेज, रेलवे स्टेशन आदि स्थानो के सीसीटीवी चैक किये गये जिससे गुमशुदाओ का रोडवेज स्टेशन हल्द्दानी से 01 लडके के साथ ई- रिक्शा  मे बैठकर मंगलपडाव की तरफ जाते हुये दिखायी देना ज्ञात हुआ। नाबालिक लडकियो के साथ ई-रिक्शा मे जाने वाले संदिग्ध लडके के सम्बन्ध मे जानकारी की गयी तो उक्त लडके की पहचान 16 वर्षिय बालक निवासी जवाहर नगर थाना वनभूलपुरा के रूप मे हुई। टीमो द्वारा गुमशुदा व संदिग्ध बालक उपरोक्त के रिश्तेदारो, दोस्तो, पहचान वालो आदि से गहन पूछताछ की गयी तथा गुमशुदा बालिकाओ /संदिग्ध बालक के मोबाईल नम्बर प्राप्त कर सर्विलांस टीम के माध्यम से लोकेशन व सीडीआर प्राप्त की गयी जिनका अवलोकन किया गया। उक्त बालक की लोकेशन सहसवान जिला बदायू मे ज्ञात होने पर तत्काल गठित पुलिस टीमो  को बदायूं, बरेली के अलावा अन्य स्थानों काशीपुर, मुरादाबाद, दिल्ली भेजकर गुमशुदाओ की तलाश की गयी तथा उक्त क्षेत्रो मे गुमशुदाओ व संदिग्ध बालक के रिशतेदार, पहचान वाले, दोस्तो सभी के घर जाकर तलाश तथा पूछताछ की गयी। जनपद बदायूँ रवाना पुलिस टीम की पूछताछ के दौरान संदिग्ध बालक द्वारा दोनो गुमशुदा लडकियो को लेकर अपनी बहन निशा उर्फ नूरीन पत्नि उजैर उर्फ आसिफ निवासी मृदाटोला थाना सहसवान जिला बदायूं उत्तर प्रदेश के द्वारा उक्त नाबालिगों को यह जानते हुए भी कि वह घर से अपृहत हैं, को अपने घर में छुपाकर रखा गया और बालक की बहन नूरीन उर्फ निशा व उसके पति  उजैर उर्फ आसिफ के द्वारा बालक के मामा मौ0 अब्दुल शमी उर्फ भोला को सूचना देते हुए अवगत कराया गया। उसके उपरान्त इन सभी के द्वारा आपराधिक षड़यन्त्र करते हुए उक्त अपहर्ता बालिकाओं के सम्बन्ध में पुलिस को गुमराह करते हुए उन्हें किसी अन्य स्थान पर भेज दिया गया और जिसके द्वारा पुलिस को कोई सूचना नही दी गयी थी और मामले को छिपाया गया था। इसके पश्चात पुलिस टीमो द्वारा उझानी, बदायू, बरेली, काशीपुर, मुरादाबाद, दिल्ली के सभी सम्भावित बस स्टेशन, रेलवे स्टेशन व अन्य स्थानो के लगभग 200-250  सीसीटीवी कैमरे चैक किये गये जिससे गुमशुदाओ व संदिग्ध बालक ट्रेन से बैठकर बरेली से दिल्ली जाना ज्ञात हुआ तथा गुमशुदाओ की तलाश हेतु मुखबिर मामूर किये गये पुलिस टीमो द्वारा गुमशुदाओ व संदिग्ध बालक की तलाश हेतु सुरागरसी पतारसी के दौरान थानाध्यक्ष बनभूलपुरा एवं एसओजी प्रभारी व अन्य नियुक्त पुलिस टीम द्वारा आज दिनाँक 25 जून को मुखबिर की सूचना पर दोनों अपह्रत बालिकाओं को रेलवे स्टेशन मंसूरपुर मुजफ्फरनगर उत्तर प्रदेश से बरामद किया गया व विधि का उल्लघन करने वाला बालक उपरोक्त को संरक्षण में लिया गया और इनके साथ मौजूद आमिल को भी इस प्रकरण मे पूछताछ हेतु हल्द्दानी लेकर आये।
 
अपहर्ताओ से की गयी पूछताछ पर पाया गया कि आमिल द्वारा ही उक्त नाबालिग अपह्रत बालिकाओं एंव उक्त विधि विवादित किशोर को 02 दिन तक अपने घर में छिपाकर रखा गया एंव उन्हें भगाने में सहयोग करते हुए भागने के लिए 2,000 रूपये भी दिए गये। निशा, उजैर उर्फ आसिफ व अब्दुल समी उर्फ भोला जिन्हें वृहद पूछताछ हेतु थाने तलब किया गया था, से विस्तृत पूछताछ पर निशा, उजैर उर्फ आसिफ व अब्दुल समी उर्फ भोला द्वारा अपहृत/गुमशुदा नाबालिग बालिकाओ व बालक के बारे मे पूर्ण जानकारी होने के उपरान्त भी अपहृत नाबालिक लडकियो को शरण देने तथा इनको छिपाने मे मदद करने तथा अपहृत/गुमशुदा लडकियो के परिजनो तथा पुलिस प्रशासन को कोई सूचना नही देने के तथ्य प्रकाश मे आये, जिस कारण मुकदमा उपरोक्त मे निशा उर्फ नूरीन पत्नि उजैर उर्फ आसिफ निवासी मृदाटोला थाना सहसवान जिला बदायूं उत्तर प्रदेश व उजैर उर्फ आसिफ पुत्र हफीज अहमद निवासी मृदाटोला थाना सहसवान जिला बदायूं उत्तर प्रदेश व अब्दुल समी उर्फ भोला पुत्र अब्दुल रशीद  निवासी ला0न0 17 थाना बनभूलपुरा व आमिल उपरोक्त को अन्तर्गत धारा 368/120 बी भादवि हिरासत पुलिस मे लिया गया।
 
नाबालिको को गुमराह कर भगाने/संरक्षण देने वाले अभियुक्तों में आमिल पुत्र अमीर हसन निवासी ग्राम बिहारी थाना सिखेडा जिला मुजफ्फरनगर उ0प्र0, निशा उर्फ नूरीन पत्नि उजैर उर्फ आसिफ निवासी मृदाटोला थाना सहसवान जिला बदायूं उत्तर प्रदेश, उजैर उर्फ आसिफ पुत्र हफीज अहमद निवासी मृदाटोला थाना सहसवान जिला बदायूं उत्तर प्रदेश, अब्दुल समी उर्फ भोला  पुत्र अब्दुल रशीद  निवासी ला0न0 17 थाना बनभूलपुरा एवं विधि का उल्लघन करने वाला बालक शामिल रहें।
 
 
इस दौरान पुलिस टीम में उप निरीक्षक नीरज भाकुनी थानाध्यक्ष बनभूलपुरा, उप निरीक्षक संजीत राठौर प्रभारी एसओजी, दिनेश जोशी चौकी प्रभारी मंगल पडाव कोतवाली हल्द्वानी, हेड कांस्टेबल इशरार नवी बहुद्देशीय भवन,  हेड कांस्टेबल ललित श्रीवास्तव एस ओजी हल्द्वानी, कांस्टेबल राजेश बिष्ट (सर्विलांस सर्पोर्ट एसओजी), उप निरीक्षक जगदीप नेगी थानाध्यक्ष भीमताल, गौरव जौशी कोतवाली लालकुँआ, कांस्टेबल अरुण राठौर कोतवाली हल्द्वानी, कांस्टेबल नवीन राणा कोतवाली हल्द्वानी, उप निरीक्षक फिरोज आलम थाना काठगोदाम, मनोज कुमार काठगोदाम, कांस्टेबल संतोष बिष्ट काठगोदाम, कांस्टेबल कारज सिंह काठगोदाम, उप निरीक्षक विरेन्द्र चन्द्र थाना बनभूलपुरा, उप निरीक्षक अनिल कुमार, महबूब आलम बनभूलपुरा, मुनेन्द्र एवं शिवम बनभूलपुरा सम्मिलित रहें।
 
यह भी पढ़ें 👉  रुद्रपुर में अतिक्रमण हटाने के दौरान पथराव की निंदा के साथ ही डिप्लोमा इंजीनियर्स संघ ने चेतावनी दी कि बिना सुरक्षा के काम करने में रहेंगे असमर्थ

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 हमारे समाचार ग्रुप (WhatsApp) से जुड़ें

👉 हमसे फेसबुक पर जुड़ने के लिए पेज़ को लाइक करें

👉 ख़बर सच है से टेलीग्राम (Telegram) पर जुड़ें

👉 हमारे पोर्टल में विज्ञापन एवं समाचार के लिए कृपया हमें [email protected] पर ईमेल करें या +91 97195 66787 पर संपर्क करें।

TAGS: Along with the safe recovery of the kidnapped girls five accused arrested Haldwani news Nainital police The kidnapped girls were recovered safely the police also arrested five accused involved in the kidnapping uttarakhand news

More Stories

उत्तराखण्ड

सवा करोड रूपये घोटाले का लेखाकार 17 साल बाद आया एसटीएफ के कब्जे में 

ख़बर शेयर करें -

ख़बर शेयर करें –      खबर सच है संवाददाता    देहरादून। एसटीएफ की आधुनिक तकनीक के साथ मैनुवल पुलिसिंग के सार्थक परिणाम पर सवा करोड रूपये घोटाले का लेखाकार 17 साल बाद एसटीएफ के कब्जे में आया है। दरगाह शरीफ पिरान कलियर के दस्तावेजों में हेराफेरी कर फरार अपराधी की गिरप्तारी पर 25 हजार […]

Read More
उत्तराखण्ड

रुद्रपुर में अतिक्रमण हटाने के दौरान पथराव की निंदा के साथ ही डिप्लोमा इंजीनियर्स संघ ने चेतावनी दी कि बिना सुरक्षा के काम करने में रहेंगे असमर्थ

ख़बर शेयर करें -

ख़बर शेयर करें –      खबर सच है संवाददाता    हल्द्वानी। उत्तराखण्ड डिप्लोमा इंजीनियर्स संघ की आपातकालीन बैठक में ऊधमसिंहनगर के रुद्रपुर में अतिक्रमण हटाने के दौरान पथराव की निंदा की गई। चेतावनी दी गई कि भविष्य में कर्मचारी-अधिकारी बिना सुरक्षा के काम करने में असमर्थ रहेंगे। इस संबंध में ऊधमसिंहनगर के जिलाधिकारी को […]

Read More
उत्तराखण्ड

काठगोदाम थाना क्षेत्र में देवखड़ी नाले में बहे युवक एवं बमेटा गांव के पुल के पास परिताल में डूबे जवान का मिला शव

ख़बर शेयर करें -

ख़बर शेयर करें –      खबर सच है संवाददाता    हल्द्वानी। हल्द्वानी के काठगोदाम थाना क्षेत्र में 11 जुलाई की रात्रि को देवखड़ी नाले में बहे युवक आकाश सिंह का शव जयपुर बीसा लालकुआ में मिल गया है। प्रशासनिक सूत्रों ने बताया कि पंचायत नामा पोस्टमार्टम की कार्यवाही की जा रही है।   वहीं […]

Read More