मुख्य सचिव ने सरकारी स्कूल में दाखिले से मना करने वाले प्रधानाचार्य या शिक्षकों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के दिए निर्देश 

ख़बर शेयर करें -

 

खबर सच है संवाददाता

देहरादून। मुख्य सचिव राधा रतूड़ी ने सख्त निर्देश दिए हैं कि राज्य में किसी भी बच्चे को किसी भी कारण से सरकारी स्कूल में दाखिले से मना करने वाले प्रधानाचार्य या शिक्षकों के खिलाफ प्रथम दृष्टया कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाएगी। साथ ही कहा कि राज्य में दस्तावेजों के अभाव में कोई भी सरकारी स्कूल किसी भी जरूरतमंद बच्चे को मना नही कर सकता है। इस हेतु अपर सचिव शिक्षा रंजना राजगुरू को तत्काल प्रभाव से सभी सरकारी स्कूलों को आदेश जारी करने के निर्देश दिए हैं। 

सचिवालय में महिला एवं बाल विकास विभाग की राज्य स्तरीय मूल्यांकन अनुश्रवण समिति की पहली समीक्षा बैठक के दौरान मुख्य सचिव श्रीमती राधा रतूड़ी ने देहरादून के आईएसबीटी क्षेत्र में भिक्षावृति को खत्म करने तथा उनके पुर्नवास हेतु एक पायलट प्रोजेक्ट पर तत्काल कार्य आरम्भ करने के निर्देश विभाग को दिए हैं। बैठक के दौरान राज्य में कुछ अनाथ, गरीब, भिक्षावृति में लिप्त, जरूरतमंद एवं प्रवासी मजदूरा के बच्चों को जरूरी दस्तावेज जैसे आधार, राशन कार्ड आदि के न होने के कारण स्कूलों द्वारा दाखिला न दिए जाने के मामले संज्ञान में आए। जरूरतमंद बच्चों की शिक्षा के मुद्दे को अत्यन्त संवेदशीलता से लेते हुए मुख्य सचिव ने अपर सचिव शिक्षा रंजना राजगुरू को इस सम्बन्ध में नोडल बनाते हुए है निर्देश दिए हैं कि राज्य में सरकारी स्कूलों द्वारा किसी भी बच्चे को बिना किसी भेदभाव के दाखिला दिया जाएगा।

बैठक के दौरान मुख्य सचिव ने राज्य में बाल भिक्षावृति, बाल विवाह तथा बाल श्रम के मामलें पूरी तरह रोकने के लिए सभी सम्बन्धित विभागों को सटीक आंकडे़ उपलब्ध करवाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने इस सम्बन्ध में जल्द स्टेट रिर्सोस सेन्टर की स्थापना करने के भी निर्देश दिए हैं। इस दौरान बैठक में सचिव आर मीनाक्षी सुन्दरम, राधिका झा, एच सी सेमवाल, अपर सचिव रंजना राजगुरू तथा अन्य सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित थे।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 हमारे समाचार ग्रुप (WhatsApp) से जुड़ें

👉 हमसे फेसबुक पर जुड़ने के लिए पेज़ को लाइक करें

👉 ख़बर सच है से टेलीग्राम (Telegram) पर जुड़ें

👉 हमारे पोर्टल में विज्ञापन एवं समाचार के लिए कृपया हमें [email protected] पर ईमेल करें या +91 97195 66787 पर संपर्क करें।

TAGS: Chief Secretary gave instructions Chief Secretary gave instructions to take strict action against the principal or teachers who refuse admission in government school dehradun news Uttrakhand news

More Stories

उत्तराखण्ड

बाबा तरसेम सिंह हत्याकांड में शामिल आरोपी सतनाम सिह को एसआईटी ने किया लखीमपुर खीरी से गिरफ्तार  

ख़बर शेयर करें -

ख़बर शेयर करें – खबर सच है संवाददाता उधमसिंह नगर। बाबा तरसेम सिंह हत्याकांड षड्यंत्र में शामिल आरोपी सतनाम सिह निवासी कुईया महोलिया थाना बन्डा शाहजहांपुर को एसआईटी प्रभारी और एसपी सिटी मनोज कत्याल की अगुवाई में पुलिस टीम ने लखीमपुर खीरी के गोरी फंटा से गिरफ्तार किया है। ऊधम सिंह नगर जनपद के नानकमत्ता […]

Read More
उत्तराखण्ड

पोस्टमार्टम से हुआ खुलासा! गला घोंटने से हुई थी अफसाना की मौत 

ख़बर शेयर करें -

ख़बर शेयर करें -खबर सच है संवाददाता हल्द्वानी। 10 अप्रैल को हल्द्वानी के टीपी नगर पुलिस चौकी क्षेत्र नीलांचल कॉलोनी में कमरे में मृत मिली महिला के पोस्टमार्टम रिपोर्ट सामने आने के बाद मामले में नया खुलासा होने के बाद पता चला है कि अफसाना को गला घोंटकर मारा गया था। फिलहाल महिला हत्यारोपी पति सौरभ […]

Read More
उत्तराखण्ड

एसटीएफ ने ऑनलाईन पार्ट टाइम जॉब के नाम पर राष्ट्रीय स्कैम के गिरोह का पर्दाफाश करते हुए एक सक्रिय सदस्य को किया गिरफ्तार 

ख़बर शेयर करें -

ख़बर शेयर करें –  खबर सच है संवाददाता देहरादून। एसटीएफ की साइबर क्राइम पुलिस टीम द्वारा ऑनलाईन पार्ट टाइम जॉब के नाम पर किये जा रहे राष्ट्रीय स्कैम के एक और गिरोह का पर्दाफाश किया है। गिरोह के एक सक्रिय सदस्य को जिला दुर्ग, छत्तीसगढ से गिरफ्तार किया है। इस गिरोह ने देहरादून निवासी एक […]

Read More