आरोपी को गिरफ्तार करते हुए पुलिस ने इंदौर और ऋषिकेश ट्रेन में मिले महिला के अंग मामले का किया खुलासा

ख़बर शेयर करें -
 
 
 
खबर सच है संवाददाता 
 
ऋषिकेश। पुलिस ने आरोपी द्वारा महिला के फोन में डाली गईं सिम को ट्रेस करते हुए कर लिया है। आरोपी ने पहले गला दबाकर महिला को मारा था, फिर धारदार हथियार से शव के टुकड़े कर दिए थे।
 
बताते चलें कि कुछ दिनों पहले भारत के दो राज्यों की ट्रेन में तीन भागों में महिला का शव जीआरपी पुलिस द्वारा बरामद किया गया था। एक काले बैग और थेले में इंदौर जीआरपी पुलिस ने सिर को बरामद किया था। वहीं महिला के हाथ-पैर के अंग उत्तराखंड के ऋषिकेश की ट्रेन में बरामद हुए थे। इसके हाथों पर लिखे हुए नाम के आधार पर पुलिस तलाश करते हुए रतलाम पहुंची थी। इस मामले के अंधे क़त्ल के तार उज्जैन से जोड़े जा रहे थे जिसमें पुलिस ने खुलासा करते हुए कमलेश नामक एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। जीआरपी पुलिस ने बताया कि इस अंधे कत्ल में पुलिस ने शानदार भूमिका निभाई है। कैटरिंग का काम करने वाले कमलेश पटेल को गिरफ्तार किया गया है। बताया जा रहा है कि रतलाम में पति से विवाद होने के बाद महिला ट्रेन में सवार होकर उज्जैन आई थी और यहां पर अकेली प्लेटफॉर्म पर बैठी थी कि तभी वहां पर कमलेश पटेल महिला के पास पहुंचा और बातचीत करते हुए महिला को अपने साथ घर पर ले गया। फिर वहां पर खाना खिलाने के बहाने महिला के खाने में नशे की दवा खिला दी जिसके कारण महिला कुछ हद तक बेहोश हो गई थी और फिर महिला के साथ जोर जबरदस्ती करने का प्रयास किया। महिला ने इसका विरोध किया तो पास में ही पड़े एक वस्तु से महिला पर हमला कर दिया। इसके कारण महिला बेहोश हो गई थी और उसके बाद में कमलेश ने महिला का गला घोट दिया और बाजार से धारदार हथियार लिया और कई भागों में शरीर को काट दिया। तीन हिस्सों में महिला का शव दो ट्रेनों में रख दिया था जो कि जीआरपी पुलिस को आठ जून को मिला। जबकि उत्तराखंड के ऋषिकेश में 9 जून को महिला के शव के अंग मिले थे। ऋषिकेश में मिले हाथ-पैर के हाथ में महिला का नाम लिखा हुआ था।इसके आधार पर पुलिस तलाश करती हुई रतलाम पहुंची और वहां से महिला की शिनाख्त तो हुई थी और फिर महिला के आखिरी लोकेशन उज्जैन में पाई गई। पुलिस हत्यारे तक पहुंच गई। पूरे घटनाक्रम में आरोपी कमलेश की पत्नी जो कि मूक-बधिर है, उसके माध्यम से हत्या के और सबूत जुटाए गए और उसकी इस हत्याकांड की अहम कड़ी बनाया गया है। हत्याकांड की घटना में कुलसी में मूकबधिर संस्था से जुड़े लोगों का भी सहारा लिया गया। पकड़ा गया कमलेश मूल रूप से उत्तर प्रदेश के ललितपुर का रहने वाला है और उज्जैन में हुए पिछले सिंहस्थ घूमने के लिए उज्जैन आया था और यहीं पर रहने लगा और कैटरिंग का काम कर रोजी-रोटी कमाने लगा था। उसके मन में इस तरह का कृत्य क्यों आया इसका पूछताछ में खुलासा होगा, लेकिन बताया जाता है कि वह उज्जैन के रेलवे स्टेशन पर ही घूमता रहता है। जीआरपी पुलिस ने 17 दिनों के अंदर ही पूरे हत्याकांड का खुलासा कर दिया। रोचक बात है कि आरोपी कमलेश ने महिला की हत्या के बाद उसके मोबाइल में अपनी सिम डाली थी। इसी सिम को ट्रेस करते हुए पुलिस आरोपी तक पहुंच गई।
यह भी पढ़ें 👉  विधायक कालाढूंगी, कुमाऊं कमिश्नर और जिलाधिकारी नैनीताल ने किया वृक्षारोपण, पर्यावरण संरक्षण का दिया संदेश 

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 हमारे समाचार ग्रुप (WhatsApp) से जुड़ें

👉 हमसे फेसबुक पर जुड़ने के लिए पेज़ को लाइक करें

👉 ख़बर सच है से टेलीग्राम (Telegram) पर जुड़ें

👉 हमारे पोर्टल में विज्ञापन एवं समाचार के लिए कृपया हमें [email protected] पर ईमेल करें या +91 97195 66787 पर संपर्क करें।

TAGS: accused arrested police revealed the case of woman's body parts found in Indore and Rishikesh train rishikesh news uttarakhand news While arresting the accused woman's body parts found in Indore and Rishikesh train woman's body parts found in train

More Stories

उत्तराखण्ड

एसएसपी ऊधमसिंह नगर ने किए दरोगा एवं इंस्पेक्टर के तबादले 

ख़बर शेयर करें -

ख़बर शेयर करें –   खबर सच है संवाददाता  रुद्रपुर। एसएसपी ऊधमसिंह नगर मंजूनाथ टीसी ने दरोगा और इंस्पेक्टर के ट्रांसफर किए हैं, जिसका आदेश भी जारी कर दिया गया है। यह भी पढ़ें 👉  खुला आश्रय गृह से किशोरी फरार, मुकदमा दर्ज

Read More
उत्तराखण्ड

एक समाज श्रेष्ठ समाज संस्था द्वारा केन्द्रीय विद्यालय में किया गया पौधारोपण  

ख़बर शेयर करें -

ख़बर शेयर करें –      खबर सच है संवाददाता    हल्द्वानी। एक समाज श्रेष्ठ समाज संस्था अध्यक्ष योगेन्द्र कुमार साहू सदस्य योगिता बनोला के नेतृत्व में पृथ्वी को स्वच्छ एवं हरा भरा रखने के लिए उत्तराखंड के लोक पर्व हरेला के अवसर पर संस्था पदाधिकारियों द्वारा हल्द्वानी आर्मी कैंट स्थित केन्द्रीय विद्यालय में पौधारोपण […]

Read More
उत्तराखण्ड

काठगोदाम पुल से नीचे मिला हैड़ाखान स्थित नदी में बहे बच्चे का शव   

ख़बर शेयर करें -

ख़बर शेयर करें –      खबर सच है संवाददाता    हल्द्वानी। भीमताल विकास खंड के हैड़ाखान स्थित भोडिया गौला नदी में बहे बच्चे का शव काठगोदाम पुल से नीचे मिला। विधायक राम सिंह कैड़ा ने जिला प्रशासन से आपदा मद से मृतक के परिजनों को चार लाख रुपए की सहायता देने को कहा है। […]

Read More