अन्य राज्यों से आने वाले डीजल वाहनों को अब उत्तराखण्ड प्रवेश में फास्टैग के माध्यम से देना होगा ग्रीन एंट्री सेस

ख़बर शेयर करें -

  

खबर सच है संवाददाता

देहरादून। दूसरे राज्यों से आने वाले डीजल वाहनों को अब उत्तराखंड में प्रवेश करते ही फास्टैग के माध्यम से ग्रीन एंट्री सेस देना होगा। राज्य सरकार इसके लिए भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) के साथ करार करने जा रही है।

राजधानी देहरादून समेत पूरे प्रदेश में स्वच्छ गतिशीलता परिवर्तन नीति लागू करने के लिए शुक्रवार को शासनादेश जारी कर दिया गया। देहरादून में सबसे पहले डीजल सार्वजनिक यात्री वाहनों को हटाकर सीएनजी-इलेक्ट्रिक वाहन खरीदने के लिए अनुदान मिलेगा। जल्द ही पूरे प्रदेश में यह प्रक्रिया शुरू होगी। बृहस्पतिवार को कैबिनेट ने स्वच्छ गतिशीलता परिवर्तन नीति को मंजूरी देकर सार्वजनिक डीजल यात्री वाहनों के बदले सीएनजी-इलेक्ट्रिक वाहनों को खरीदने के लिए प्रोत्साहन अनुदान राशि देने का फैसला लिया। इसमें प्रोत्साहन योजना के सभी बिंदुओं को स्पष्ट किया गया। बताया गया कि स्वच्छ गतिशीलता परिवर्तन नीति को परिवहन विभाग की ओर से वित्त पोषित किया जाएगा। हालांकि अनुदान का भार सरकार पर नहीं पड़ेगा। इसके लिए सरकार की ओर से ‘उत्तराखंड क्लीन मोबिलिटी ट्रांजेशन फंड’ बनाया जा रहा है। इसमें विभिन्न स्रोतों से प्राप्त राशि फंड के रूप में जमा की जाएगी। इस फंड का उपयोग अनुदान राशि वितरित करने में होगा।

परिवहन सचिव अरविंद सिंह ह्यांकी ने बताया कि राज्य में पहले ही वाहनों के पंजीकरण के समय ग्रीन सेस लिया जाता है। अब बाहर से आने वाले डीजल वाहनों से फास्टैग के माध्यम से ग्रीन एंट्री सेस वसूल किया जाएगा। ग्रीन सेस और ग्रीन एंट्री सेस से अनुदान राशि का वितरण करने की योजना है। प्रोत्साहन राशि में जितनी भी धनराशि कम पड़ेगी, वह राज्य सरकार उपलब्ध कराएगी।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 हमारे समाचार ग्रुप (WhatsApp) से जुड़ें

👉 हमसे फेसबुक पर जुड़ने के लिए पेज़ को लाइक करें

👉 ख़बर सच है से टेलीग्राम (Telegram) पर जुड़ें

👉 हमारे पोर्टल में विज्ञापन एवं समाचार के लिए कृपया हमें [email protected] पर ईमेल करें या +91 97195 66787 पर संपर्क करें।

TAGS: dehradun news Diesel vehicles coming from other states will now have to pay green entry cess through Fastag when entering Uttarakhand Diesel vehicles pay green entry cess through Fastag Uttrakhand news

More Stories

उत्तराखण्ड

ऋषिकेश से टिहरी जा रही यात्रियों से भरी बस पलटी, एसडीआरएफ और स्थानीय पुलिस ने घायलों को पहुंचाया अस्पताल  

ख़बर शेयर करें -

ख़बर शेयर करें –  खबर सच है संवाददाता टिहरी। ऋषिकेश से टिहरी जा रही यात्रियों से भरी बस भद्रकाली के पास पलटी। सूचना पर पहुंची एसडीआरएफ और स्थानीय पुलिस ने घायलों को एंबुलेंस की मदद से एम्स अस्पताल और नरेंद्र नगर भेजा। प्राप्त जानकारी के अनुसार  चलकर गढ़वाल मंडल विकास निगम की बस आज सुबह […]

Read More
उत्तराखण्ड

पतंजलि पैक्ड शहद का नमूना जांच में अधोमानक पाये जाने पर  विक्रेता और डिस्ट्रीब्यूटर पर लगा एक लाख का अर्थदंड

ख़बर शेयर करें -

ख़बर शेयर करें –  खबर सच है संवाददाता पिथौरागढ़। करीब चार साल पूर्व डीडीहाट से एकत्र किये पतंजलि के पैक्ड शहद का एक नमूना जांच में अधोमानक पाया गया है। पैक्ड शहद के लिए गए नमूने में सुक्रोज की मात्रा दोगुनी से अधिक मिली है। न्याय निर्णायक अधिकारी ने डीडीहाट के विक्रेता और रामनगर की […]

Read More
उत्तराखण्ड

बाबा तरसेम सिंह हत्याकांड में शामिल आरोपी सतनाम सिह को एसआईटी ने किया लखीमपुर खीरी से गिरफ्तार  

ख़बर शेयर करें -

ख़बर शेयर करें – खबर सच है संवाददाता उधमसिंह नगर। बाबा तरसेम सिंह हत्याकांड षड्यंत्र में शामिल आरोपी सतनाम सिह निवासी कुईया महोलिया थाना बन्डा शाहजहांपुर को एसआईटी प्रभारी और एसपी सिटी मनोज कत्याल की अगुवाई में पुलिस टीम ने लखीमपुर खीरी के गोरी फंटा से गिरफ्तार किया है। ऊधम सिंह नगर जनपद के नानकमत्ता […]

Read More