12 साल पर न्यायालय से दोषमुक्त हुए अपहरण के आरोपी पुलिस कर्मी  

ख़बर शेयर करें -

खबर सच है संवाददाता

नैनीताल। अपर मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट नैनीताल ज्योत्सना की अदालत में वर्ष 2010 में घटित बेतालघाट की घटना के संबंध में दो पुलिसकर्मियों जिनमें तत्कालीन एसओजी अल्मोड़ा के कांस्टेबल देवीदत्त पांडे तथा कॉन्स्टेबल संदीप सिंह को धारा 342,352,448, 365,34 आईपीसी में दोषमुक्त किया गया है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार वादी किरण फर्त्याल द्वारा न्यायालय में यह कहकर वाद दायर किया गया था, कि दिनांक 22/12/2010 को समय लगभग दिन के 1:00 बजे उनके निवास स्थान कालाखेत थाना बेतालघाट जिला नैनीताल में 4-5 लोग हथियारों से लैस होकर अल्टो कार से आए तथा उसे तथा उसके पति को बलपूर्वक जबरदस्ती गाड़ी में बैठा कर अल्मोड़ा ले गए। जब मौके पर गांव वाले इकट्ठा हुए और उनका विरोध किया गया तो इन हथियारबंद लोगों ने खुद को एसओजी का होना बताया तथा गोली चलाने की धमकी दी। जिसके बाद अभियुक्त गण वादी किरण फर्त्याल तथा उसके पति विजय फर्त्याल को अल्मोड़ा थाना उठा ले गए। जहां दोनों को रात भर थाने में बंद रखा गया तथा सुबह वादी को छोड़कर उसके पति विजय फर्त्याल को झूठे चरस के मामले में फसा कर जेल भेज दिया गया। जिसके बाद मामला वर्ष 2011 में न्यायालय में चला। वादी पक्ष की ओर से 8 गवाह पेश किए गए। जबकि अभियुक्तगणों की तरफ से पैरवी करते हुए अधिवक्ता पंकज कुलौरा द्वारा न्यायालय में यह तर्क रखा गया की वादी द्वारा अपने पति को चरस के मामले से बचाने के लिए अभियुक्तगणों को झूठा फंसाया गया है। क्योंकि वादी के पति विजय फर्त्याल को उसी दिन तथा उसी समय अल्मोड़ा पुलिस द्वारा 1 किलो 585 ग्राम अवैध चरस के साथ पकड़ा गया था। जिसके बाद जिला एवं सत्र न्यायाधीश अल्मोड़ा द्वारा अवैध चरस के मामले में उसे 10 साल का कारावास तथा ₹100000 का जुर्माना हुआ है। उस मामले में दोनों पुलिसकर्मी पुलिस टीम के सहयोगी थे। जिस कारण उन पर कोई अपराध नहीं बनता है और उन्हें झूठा फंसाया गया है। न्यायालय द्वारा पुलिसकर्मियों के पक्ष में दस्तावेजी साक्ष्यों के आधार पर तथा वादी के अपने मामले को साबित न किए जाने के कारण दोनों पुलिसकर्मियों को दोषमुक्त कर दिया गया। बचाव पक्ष की ओर से अधिवक्ता पंकज कुलौरा के साथ अधिवक्ता रितेश सागर व सुधीर सिंह रहे। अधिवक्तागण ने इसे न्याय की जीत बताया।

यह भी पढ़ें 👉  काठगोदाम थाना क्षेत्र में देवखड़ी नाले में बहे युवक एवं बमेटा गांव के पुल के पास परिताल में डूबे जवान का मिला शव

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 हमारे समाचार ग्रुप (WhatsApp) से जुड़ें

👉 हमसे फेसबुक पर जुड़ने के लिए पेज़ को लाइक करें

👉 ख़बर सच है से टेलीग्राम (Telegram) पर जुड़ें

👉 हमारे पोर्टल में विज्ञापन एवं समाचार के लिए कृपया हमें [email protected] पर ईमेल करें या +91 97195 66787 पर संपर्क करें।

TAGS: court news nainital news Police personnel accused of kidnapping acquitted from court after 12 years Uttrakhand news

More Stories

उत्तराखण्ड

शिक्षक के नशे की हालत में स्कूल आने के मामले का मुख्य शिक्षा अधिकारी ने लिया संज्ञान, खंड शिक्षा अधिकारी से तलब की रिपोर्ट   

ख़बर शेयर करें -

ख़बर शेयर करें –        खबर सच है संवाददाता    पौड़ी। पौड़ी जिले के विकास खंड कोट स्थित एक विद्यालय में सेवारत शिक्षक के नशे की हालत में स्कूल आने का मामला सामने आया है। जिसका एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। वीडियो में एक ग्रामीण शिक्षक से नशे की […]

Read More
उत्तराखण्ड

सवा करोड रूपये घोटाले का लेखाकार 17 साल बाद आया एसटीएफ के कब्जे में 

ख़बर शेयर करें -

ख़बर शेयर करें –      खबर सच है संवाददाता    देहरादून। एसटीएफ की आधुनिक तकनीक के साथ मैनुवल पुलिसिंग के सार्थक परिणाम पर सवा करोड रूपये घोटाले का लेखाकार 17 साल बाद एसटीएफ के कब्जे में आया है। दरगाह शरीफ पिरान कलियर के दस्तावेजों में हेराफेरी कर फरार अपराधी की गिरप्तारी पर 25 हजार […]

Read More
उत्तराखण्ड

रुद्रपुर में अतिक्रमण हटाने के दौरान पथराव की निंदा के साथ ही डिप्लोमा इंजीनियर्स संघ ने चेतावनी दी कि बिना सुरक्षा के काम करने में रहेंगे असमर्थ

ख़बर शेयर करें -

ख़बर शेयर करें –      खबर सच है संवाददाता    हल्द्वानी। उत्तराखण्ड डिप्लोमा इंजीनियर्स संघ की आपातकालीन बैठक में ऊधमसिंहनगर के रुद्रपुर में अतिक्रमण हटाने के दौरान पथराव की निंदा की गई। चेतावनी दी गई कि भविष्य में कर्मचारी-अधिकारी बिना सुरक्षा के काम करने में असमर्थ रहेंगे। इस संबंध में ऊधमसिंहनगर के जिलाधिकारी को […]

Read More